सर्राफा के बेटे को ब्लैकमेल करने वाले जेल गए

गोविन्दनगर में सर्राफा कारोबारी के बिगड़ैल बेटे को ब्लैकमेल कर रुपए ऐंठने वाले तीन शातिरों को मंगलवार को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। इसमें एक पीडि़त का दोस्त है, जबकि दूसरा उसका टीचर है। दोनों ने शातिर साथी के संग मिलकर उसको ब्लैकमेल करने का प्लान तैयार किया था।

गुजैनी में रहने वाले सर्राफा कारोबारी का नाबालिग बेटा बुरी संगत में बिगड़ गया था। उसकी क्यू ब्लाक में चिंदा टैम्बर के मालिक विनोद कुमार के बेटे मयंक से दोस्ती थी। सर्राफा कारोबारी का बेटा खर्च पूरे करने के लिए घर में चोरी करने लगा था। उसने मयंक को चोरी के जेवर बेचने के लिए कहा तो मयंक ने उसकी करतूत के बारे में टीचर गौतम और उनके दोस्त आतिश गुप्ता को बताया। आतिश ने शुरुआत में तो जेवर बेचकर उसको रुपए दिए, लेकिन फिर उनके मन में लालच आ गया। कुछ दिन पहले पीडि़त गलती से रांगे को सोना समझकर उसे बचने के लिए आतिश के पास पहुंचा तो आतिश खुद को सीओ बताते हुए घर में शिकायत करने की धमकी देकर उस पर दबाव बनाया। उसने कहा कि तुम नकली सोना बेचते हो, मैं तुम्हारे साथ तुम्हारे पिता को भी गिरफ्तार करूंगा तो वो घबरा गया। इसके बाद आतिश उसको ब्लैकमेल कर रुपए और जेवर ऐंठने लगा। आतिश चोरी के जेवर बचने के लिए जिस शॉप पर गए वो पीडि़त नाबालिग के पिता का करीबी दोस्त था। उसने ज्वैलरी पहचान कर दोस्त को बताया तो उन्होंने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने तीनों को गिरफ्तार कर पूछताछ की तो तीनों में जुर्म कबूल लिया। एसएसपी ने बताया कि अतीश बेहद शातिर है। वो इसी तरह रईसघरों के बच्चों को फंसाकर वसूली करता है।

Source: InextLive Jagran

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s