अगले 24 घंटे हैं भारी

उत्तराखंड में मानसून ने दस्तक दे दी है। मौसम विभाग के मुताबिक इस बार मानसून एक दिन पहले पहुंचा है। विभाग ने अगले 24 घंटों में पहाड़ के कई जिलों में भारी बारिश की चेतावनी दी है। यूं तो विभाग ने रविवार को ही ये चेतावनी दे दी थी, जिसके बाद शासन ने सभी जिलों के डीएम को सतर्क रहने और अलर्ट जारी करने के आदेश दे दिए थे। मौसम विभाग के मुताबिक देहरादून, ऊधमसिंहनगर, चंपावत, पिथौरागढ़, नैनीताल, पौड़ी और हरिद्वार में भारी बारिश हो सकती है। इससे चार धाम यात्रा और कैलाश मानसरोवर यात्रा में खलल पड़ सकता है।

दिनभर बंद रही चॉपर सेवा

मंगलवार को गढ़वाल में मौसम ने इतना डराया कि केदारनाथ की हेलीकॉप्टर सेवाएं पूरी दिन बंद रहीं। चारों तरफ घना कोहरा और बादलों के चलते उड़ानें नहीं भरी जा सकीं। इधर, भूस्खलन के चलते फाटा के नजदीक बंद केदारनाथ राजमार्ग 24 घंटे बाद मंगलवार को खोला जा सका।

बॉक्स

फोटो 21 वीकेएस 2- –

चकराता में 9 मार्ग बंद

सोमवार रात से मंगलवार तक लगातार हुई भारी बारिश से चकराता और कालसी से जुड़े 9 मार्ग भूस्खलन के चलते बंद हो गए। भारी बारिश से कई जगह पहाड़ दरक गए हैं। गिरा- कुवारना छानी के पास बोल्डर आने से बंद कुईथा खतार मार्ग 10 घंटे बाद खुला। हालत ये है कि हजारों की आबादी यातायात से महरूम हो गई है। भूस्खलन के चलते लाइफ लाइन चकराता- लाखामंडल समेत नौ सड़कें बंद हो गई हैं। मलबा आने से चकराता- लाखामंडल, माक्टी- मारकोडा, धौयरा- देऊ, छाछुवा- खेडा डुंगरी, कथियान, लेल्टा- पाटा, पिपरा- बायला व लोखंडी- टिब्बा लोहरी संपर्क मार्ग बंद होने से ग्रामीणों का संपर्क शहर व मंडी से कट गया है। इन मार्गो पर दर्जनों वाहन फंसे हुए हैं।

बॉक्स

बारिश ने ली मजदूर की जान

कुमाऊं क्षेत्र में बारिश आफत बनकर टूट रही है। सोमवार रात से मंगलवार शाम तक हुई बारिश से कुमाऊं के आधा दर्जन मार्ग भूस्खलन के चलते बंद हो गए हैं। बागेश्वर जिले के कफलखेत में बारिश के दौरान मलबा गिरने से मजदूर गिरिराज (22 वर्ष) की मौत हो गई। वह उप्र के मुरादाबाद थानांतर्गत गुनसारी गांव का निवासी था। नैनीताल के कालाढूंगी क्षेत्र के उदयपुरी गांव निवासी मोहनलाल के घर पर आकाशीय बिजली गिरने से मकान क्षतिग्रस्त हो गया, जबकि एक मवेशी की मौके पर मौत हो गई। चंपावत जिले में मां पूर्णागिरि मार्ग पर बाटनागाड़ के पास मलबा आने से यातायात ठप रहा। भूस्खलन के चलते पिथौरागढ़ जिले में आधा दर्जन सड़कें बंद हैं। बलौत के पास सड़क धंसने से जौलजीवी- मदकोट- मुनस्यारी मार्ग बंद हो गया है। नाचनी- बांसबगड़ मार्ग 76 घंटे बाद भी नहीं खुल सका है. Read more http://inextlive.jagran.com/dehradun/

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s