फिर एनएच-33 पर होने लगी वाहनों की पार्किग

अभी गत शुक्रवार को ही ट्रैफिक पुलिस ने एनएच- फ्फ् पर डिमना चौक के आस- पास सड़क के दोनों ओर खड़े बड़े वाहनों को हटाने का अभियान चलाया था। वाहनों से जुर्माना वसूला गया, टायरों की हवा खोली गई और वाहनों को जबरन हटवाया गया। दो दिन का क्या बीते, हालत फिर जस- की तस हो गई। फिर राहगीरों पर दुर्घटनाओं का खतरा मंडराने लगा है। यह समस्या नई नहीं है। वर्षो से बड़े वाहनों के मालिक एनएच- फ्फ् पर पारडीह काली मंदिर से भिलाई पहाड़ी तक सड़क के दोनों ओर बड़े वाहन खड़े करते हैं।

रोड पर ही मरम्मत

सड़क पर ही वाहनों की मरम्मत होती है। कुछ वाहन तो आधी सड़क पर ही खड़े कर दिए जाते हैं। इससे राष्ट्रीय राजमार्ग संकरा हो जाता है और राहगीरों और वाहनों को चलने के लिए पूरी सड़क नहीं मिलती। क्या दिन हो क्या रात, हर समय एनएच पर वाहनों की पार्किंग एक समान रहती है। ऐसा नहीं है कि ट्रैफिक पुलिस की नजर इस पर नहीं पड़ती। डिमना चौक पर ही ट्रैफिक पुलिस की पोस्ट है। यहां जवान तैनात भी रहते हैं, लेकिन ऐसे वाहनों की धर पकड़ वे जरूरी नहीं समझते। इसलिए वाहन मालिक व ड्राइवर बेखौफ सड़क पर ही वाहनों को पार्क कर देते हैं। इस समय एनएच के चौड़ीकरण का काम भी चल रहा है। इससे भी इस सड़क से गुजरने वाले वाहनों को परेशानी हो रही है। सड़क पर ही वाहनों के खड़े रहने के कारण एनएच पर यातायात सुगम नहीं है। ऊपर से दुर्घटनाओं का खतरा अलग। जब तक सड़क पर और सड़क के किनारे खड़े होने वाले सभी वाहनों को नहीं हटाया जाता तब तक इस एनएच पर चलना खतरनाक बना रहेगा।

शुक्रवार को सड़क के दोनों ओर लगभग पांच किमी तक वाहनों को सड़क से हटाने का अभियान चलाया गया था। इसमें लगभग भ्0 वाहनों से ब्0 हजार रुपये जुर्माना वसूला गया। ट्रांसपोर्टरों को समझाया भी गया था। इसके बावजूद फिर सड़क पर गाडि़यां खड़ी हो रही हैं तो यह अभियान लगातार चलाया जाएगा।   Read more http://inextlive.jagran.com/jamshedpur/

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s