प्‍यार में रूठना मनाना तो होता है

गुस्‍से में है प्‍यार बड़ा
जीहां कई बार सुबह सवेरे पति पत्‍नी गीले तौलिए से लेकर नाश्‍ते में हुई देर तक किसी भी बात पर उलझ जाते हैं और फिर जो झगड़ा शुरू होता है वो नयी पुरानी जाने कितनी बातों को लेकर विकराल हो जाता है। और आप दोनों मुंह मोड़ कर चिड़चिड़ाते हुए अपने अपने कामों में व्‍यस्‍त हो जाते हैं और मूड की ऐसी तैसी हो जाती हैं पर इस बात को लेकर सीरियस ना हों। सुबह का ढगड़ा शाम होते होते सुलझ जाता है क्‍योंकि रोजमर्रा की जिंदगी की जंग आप दोनों को मिल कर लड़नी होती हैं और इसके लिए एक दूसरे का साथ तो चाहिए ही।

बातचीत बंद ना करें
झगड़ा तो सामान्‍य है बस इसे लेकर आपस में बातचीत बंद ना करें और सुलह के दरवाजे खुले रहलने दें। झगड़ा तो हर पतिपत्नी के बीच होता है. इस में मूड इतना खराब करने की क्या बात है? अगर इस बात को ले कर एकदूसरे से बातचीत करना बंद कर दें या घर में कलह का माहौल बन जाए, तो अवश्य ही रिश्ते में दरार आ सकती है।

Read more Lifestyle News http://inextlive.jagran.com/lifestyle

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s