Government Teacher Do Not Teach Their Child In Government School

बोर्ड कार्यालय के बाबू अमित का बेटा दीवान स्कूल में, डीआईओएस कार्यालय के आलाधिकारी शर्मा जी की बिटिया सोफिया स्कूल और अपने जीआईसी के टीचर अरुण का बेटा पढ़ता है एमपीएस स्कूल में. सरकारी स्कूलों से तो दूर से ही सभी ने हाथ जोड़ दिए हैं. मजे की बात तो यह है कि सरकारी स्कूलों में बेहतर एजुकेशन का दावा करने वालों का खुद का विश्वास भी अपनी शिक्षण गुणवत्ता से उठ चुका है. हकीकत तो यही कहती है कि शिक्षा विभाग से लेकर संस्थानों तक एक भी ऐसा व्यक्ति नहीं है, जिसने अपने बच्चे को सरकारी स्कूल में पढ़ाने की हिम्मत जुटाई हो.

सिस्टम पर विश्वास नहीं

बेसिक शिक्षा विभाग से संबंधित लगभग 1300 से भी अधिक प्राइमरी व जूनियर स्कूल हैं. इन स्कूलों में छह हजार से भी ऊपर टीचर हैं. इन टीचर्स की डिग्री बीएड, बीटीसी से कम नहीं है. कुछ तो ऐसे भी हैं, जिन्होंने एमएड तक की है, लेकिन इन टीचर्स में से एक का भी बच्चा सरकारी स्कूल में नहीं पढ़ता है. http://inextlive.jagran.com/government-teacher-do-not-teach-their-child-in-government-school-89647

Source: Meerut News

View: Meerut News ePaper

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s